ALL NATIONAL UTTARAKHAND ENTERTAINMENT CRIME POLITICS SPORTS WORLD DELHI HIMACHAL BUISNESS
फ्रांस, इंग्लैंड और चीन में खोले गए स्कूल कॉलेज
September 1, 2020 • Neeraj Ruhela • WORLD

कोरोना महामारी के बीच दुनिया के कई देशों में स्कूल और कॉलेज फिर खोले गए। फ्रांस, इंग्लैंड और चीन में महीनों बाद मंगलवार से स्कूलों और कॉलेजों को खोल दिया गया। हालांकि संक्रमण की रोकथाम के लिए तमाम उपाए भी किए गए हैं। छात्रों को फेस मास्क में स्कूल जाते देखा गया।

फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने एक वीडियो संदेश में स्कूल खुलने के पहले दिन 1.2 करोड़ से ज्यादा छात्रों से कहा, 'वायरस का अब भी खतरा है और आपको खुद की सुरक्षा करनी है।' संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी छात्रों, शिक्षकों और स्टाफ के लिए स्कूल के दौरान पूरे समय मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। फ्रांस में मंगलवार से सभी कार्यस्थलों पर भी मास्क अनिवार्य कर दिया गया। इस देश में सोमवार को 3,082 नए मामले पाए जाने से संक्रमित लोगों की संख्या दो लाख 81 हजार से ज्यादा हो गई। अब तक 30 हजार से ज्यादा की मौत हुई है। 

इधर, पूरे इंग्लैंड में भी मंगलवार से स्कूलों और कॉलेजों को खोल दिया गया। स्कूलों और कॉलेजों में फेस मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। इंग्लैंड में कोरोना महामारी के चलते गत मार्च से शिक्षण संस्थान बंद थे। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने गत हफ्ते स्कूल खोलने की अपील की थी। ब्रिटेन में तीन लाख 35 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित हैं और 41 हजार से अधिक पीड़ि‍तों की मौत हुई है। 

कोरोना महामारी पर बहुत हद तक काबू पाने वाले चीन में भी सभी स्कूल बहाल कर दिए गए। इस देश में करीब 70 फीसद छात्रों की पहले ही शिक्षण संस्थानों में वापसी हो चुकी है। बाकी छात्रों का भी मंगलवार से स्कूल आना शुरू हो गया। खबरों में बताया गया है कि स्कूल पहुंचने पर छात्रों के तापमान की जांच करने की व्यवस्था की गई है। जबकि शारीरिक दूरी और मास्क पहनने के नियम प्रांतों में अलग-अलग हैं। इस बीच चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि देश में संक्रमण के दस नए मामले पाए गए। ये सभी विदेश से लौटे लोग हैं।